18वीं राष्ट्रीय जम्बूरी का पोस्टर जारी करते मुख्यमंत्री गहलोत
18वीं राष्ट्रीय जम्बूरी का पोस्टर जारी करते मुख्यमंत्री गहलोत

जयपुर, 24 जुलाई। भारत स्काउट्स एवं गाइड्स (The Bharat Scouts & Guides) द्वारा आयोजित की जाने वाले 18वीं राष्ट्रीय जम्बूरी (National Jamboree) का पोस्टर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जारी किया। राजस्थान को 66 वर्षों बाद राष्ट्रीय जम्बूरी की मेजबानी मिली है।

जम्बूरी का आयोजन पाली जिले के रोहोट में 4 से 10 जनवरी, 2023 तक होगा। 18वीं राष्ट्रीय जम्बूरी “शांति के साथ प्रगति” (progress with peace) थीम के साथ आयोजित होगी। इस वृहद आयोजन में 1500 विदेशी प्रतिभागियों सहित देशभर से 35 हजार स्काउट्स, गाइड्स, रोवर्स, रेंजर्स जुटेंगे। रोहोट में आयोजन की तैयारी शुरू कर दी गई है। राजस्थान सरकार ने जम्बूरी के लिए 25 करोड़ रुपए बजट प्रावधान किया है।

राष्ट्रीय जम्बूरी का आयोजन चार साल के अंतराल पर होता है। जम्बूरी में देश और विदेश से आए स्काउट्स, गाइड्स, रोवर्स, रेंजर्स एक दूसरे की सभ्यता, संस्कृति, रहन- सहन, भाषा, खानपान आदि से रूबरू होंगे। जम्बूरी वसुधैव कुटुम्बकम को प्रदर्शित करेगी। जम्बूरी में स्टेट गेट्स, पायनियरिंग प्रोजेक्ट, एडवेंचर वैली, ग्लोबल विलेज डेवलपमेंट, इंटीग्रेशन गेम्स, मार्च पास्ट, कलर पार्टी, फोक डांस, बॉडी परफॉर्मेंस, स्टेट डे एग्जीबिशन, रॉक क्लाइंबिंग, पैरासेलिंग और वाटर एक्टिविटीज जैसी कई प्रतियोगिताएं तथा विविध कार्यक्रम आयोजित होंगे।

कब हुई शुरुआत

देश के आजाद होने के बाद पहली राष्ट्रीय जम्बूरी का आयोजन 27 से 31 दिसम्बर, 1953 को सिकंदराबाद, आन्ध्रपदेश में हुआ था। जम्बूरी का शुभारंभ प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू ने किया था। द्वितीय राष्ट्रीय जम्बूरी राजस्थान के जयपुर में दिसम्बर, 1956 को हुई थी।

सोशल मीडिया पर अपडेट्स के लिए Facebook (https://www.facebook.com/industrialpunch) एवं Twitter (https://twitter.com/IndustrialPunchपर Follow करें …