DDLJ के लिए पहली पंसद शाहरुख नहीं टॉम क्रूज थे, जानिए फिल्म से जुड़े 10 दिलचस्प किस्से !

शाहरुख खान(Shah Rukh Khan) और काजोल स्टारर ब्लॉकबस्टर फिल्म दिलवाले दुल्हनियां ले जाएंगे(Dilwale Dulhaniya Le Jaayenge) को रिलीज हुए 25 साल बीत गए हैं। शायद ही ऐसा कोई सिने प्रेमी होगा जिसने ये फिल्म ना देखी हो। फिल्म के नाम हजारो हफ्तों से भी ज्यादा पर्दे पर लगे रहने का रिकॉर्ड दर्ज है।

यूं तो इस फिल्म के बारे में आपने काफी कुछ पढा, लिखा और सुना होगा लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे दिलचस्प किस्से बताने जा रहे हैं जिनके बारे में शायद ही आप जानते होंगे।

1-    सबसे पहले आपको बताते है आखिर मेकर्स को फिल्म के नाम का आइडिया कहां से आया ? दरअसल अनुपम खेर की पत्नी और अदाकारा किरण खेर ने फिल्म का नाम सुझाया था।

2-    फिल्म के गाने ‘मेरे ख्वाबों में जो आए’  में काजोल ने सफेद रंग की मिनी स्कर्ट पहनी थी। इस स्कर्ट के पीछे भी दिलचस्प कहानी है। दरअसल आदित्य चोपड़ा(Aditya Chopra) के कहने पर काजोल की इस स्कर्ट को छोटा किया जाना था। मनीष मल्होत्रा से ये स्कर्ट ज्यादा छोटी हो गई थी। काजोल को फिर उसी स्कर्ट में डांस करना पड़ा था।

3-    फिल्म के इसी गाने से जुड़ी एक और इंटरेस्टिंग कहानी है। दरअसल गाने के एक सीन में काजोल को तौलिया पहनकर डॉस करना था। इस सीन को सुनने के बाद काजोल ने आदित्य से कहा था की मैं इस तरह की एक्ट्रैस नहीं हूं। ये मैं नहीं कर पाउंगी। आदित्य ने काजोल को भरोसा दिलाया था की हम इसे बेहद क्लासी तरीके से पेश करेंगे। गाना देखने के बाद काजोल खुद काफी खुश हुई थी।

4-    फिल्म में शाहरुख द्वारा पहनी गई लैदर जैकेट तो आपको याद ही होगी। फिल्म के बाद इस जैकेट का फैशन चल पड़ा था। दरअसल ये आइकोनिक जैकेट उदय चोपड़ा की पंसद थी। इस जैकेट को उदय ने खुद कैलीफोर्निया में हार्ले डेविडसन स्टोर से 400 डॉलर में खरीदा था।

5-    फिल्म के गाने ‘रुकजा ओ दिल दीवाने’ की शूटिंग के दौरान काजोल से अंत तक ये बात छुपाई गई थी की लास्ट में उन्हें गिरा दिया जाएगा। मेकर्स ने ऐसा इसलिए किया था ताकि गिरने के बाद काजोल के असल एक्सप्रैशंस सामने आ सके और उन्हें रिकॉर्ड किया जा सके।

6-    यूं तो शाहरुख खान किंग ऑफ रोमांस कहलाते हैं पर क्या आप जानते हैं इस फिल्म की स्क्रिप्ट सुनने के बाद शाहरुख ने फिल्म को ना कह दिया था। उन्हे लगता था की वो रोमांटिक फिल्म के लिए नहीं बने हैं। शाहरुख मानते थे की वो ज्यादा गुड लुकिंग भी नहीं हैं लेकिन यश चोपड़ा के समझाने पर शाहरुख ने इस रोल के लिए हां कर दी थी।

7-    ये भी सच है की फिल्म को लेकर शाहरुख मेकर्स की पहली पंसद नहीं थे। रिपोर्ट्स बताती हैं की आदित्य राज के किरदार के लिए हॉलीवुड एक्टर टॉम क्रूज को कास्ट करना चाहते थे। जाहिर हैं राज के किरदार में टॉम को इमेजिन करना ही काफी अजीब लगता है। आदित्य की दूसरी पंसद फिल्म के लिए सैफ अली खान थे। बात नहीं जमी तो फिर शाहरुख को ये किरदार दिया गया था

8-    फिल्म के गाने ‘तुझे देखा तो ये जाना सनम’ की शूटिंग टीम हरियाणा के एक गांव में कर रही थी। इसके लिए वहां की लोकल पंचायत से परमिशन ली गई थी। अचानक ही गांव के लोगों ने आकर आपत्ति जाहिर करनी शुरु कर दी थी जिसके बाद शाहरुख ने उनसे हरियाणवी भाषा में बात कर मामला शांत कराया था।

9-    फिल्म में निभाए गए अमरीश पुरी के किरदार को दरअसल अनुपम खेर(Anupam Kher) निभाना चाहते थे। इसके लिए अनुपम ने डायरेक्टर आदित्य चोपड़ा(Aditya Chopra) से बात भी की थी, लेकिन आदित्य ने अनुपम को साफ मना कर दिया था।

10-  फिल्म के एक सीन में राज बने शाहरुख अपने पापा यानि अनुपम खेर को आकर बताते हैं की वो कॉलेज में फेल हो गए हैं। बेटे को डांटने के बजाए अनुपम शाहरुख को उनके फेल हुए पूर्वजो के बारे में बताते हैं। क्या आप जानते हैं इस सीन में अनुपम वास्तव में अपने ही पूर्वजों का नाम लेते हैं।