नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड ने युवाओं को रोजगार देने की तैयारी की शुरू, नवंबर से शुरू होगी 1059 रिक्तियों के लिए परीक्षा

सिंगरौली (IP News). भारत सरकार की मिनीरत्न कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड प्रशिक्षित एवं योग्य युवाओं को रोजगार के नए अवसर प्रदान कर रही है। इसके तहत एनसीएल में पर्यवेक्षकीय एवं तकनीशियन, वैधनिक संवर्ग (खनन), एचईएमएम ऑपरेटर, अकाउंटेंट, ओवरसियर, अमीन, केमिस्ट तथा पैरामेडिकल संवर्ग इत्यादि के पदों के लिए 1059 रिक्तियों पर भर्ती के लिए परीक्षा की तैयारिया पूरी कर ली गयी हैं।

8 नवंबर 2020 से शुरू होगी परीक्षा

एनसीएल द्वारा जारी अधिसूचना में पैरामेडिकल(स्टाफ) संवर्ग माइनिंग सुपरवाइजर आदि पदों पर कुल 147 रिक्तियों के लिए 23 हजार से अधिक आवेदन पत्र आए हैं। इस हेतु लिखित परीक्षा 8 नवंबर को आयोजित की जाएगी।
यह परीक्षा सोनभद्र, सिंगरौली, वाराणसी, जबलपुर व भोपाल में निर्धारित किए गए परीक्षा केन्द्रों पर आयोजित होगी द्य आवागमन की समस्या को देखते हुए सोनभद्र व सिंगरौली स्थित परीक्षा केन्द्रों के लिए सिर्फ स्थानीय अभ्यर्थियों को वरीयता दी जा रही है।

सुरक्षा व शुचिता का समुचित प्रबंध

एनसीएल प्रबंधन ने 8 नवंबर से शुरू होने वाली परीक्षा में कोविड से सुरक्षा तथा परीक्षा को निष्पक्ष रूप से आयोजित करने के लिए सभी आवश्यक प्रबंध किये है ताकि योग्यतम अभ्यर्थियों का चयन किया जा सके।
परीक्षा-प्रक्रिया को सफल बनाने के लिए 85 अधिकारियों की टीम को लगाया गया है जिनको निरीक्षक व सेंटर इंचार्ज के रूप में नियुक्त किया जाएगा। ये परीक्षा केंद्र में निर्धारित नियमों का पालन सुनिश्चित करेंगे। साथ ही वरिष्ठ अधिकारियों की टीम को सिटी इंचार्ज के रूप में नियुक्त किया गया है जो इस पूरी व्यवस्था पर नजर रखेंगे।

सीसीटीवी से होगी निगरानी

परीक्षा केन्द्रों में प्रत्येक कक्षा में सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था सुनिश्चित की गयी है। इसके साथ ही परीक्षा के दौरान विडिओग्राफी भी की जाएगी। साथ ही कोविड के खतरे को देखते हुए भारत सरकार द्वारा प्रतियोगी परीक्षाएँ आयोजित करने के लिए जो भी दिशानिर्देश दिये गए हैं उनका पूर्णतया पालन सुनिश्चित करते हुए ही यह परीक्षाएँ आयोजित की जाएंगी। इतना ही नही, कोविड संबंधी सभी दिशानिर्देशों का प्रवेशपत्र पर उल्लेख किया गया है। साथ ही परीक्षा से जुड़े अधिकारियों के लिए कोविड-किट, एवं अभ्यर्थियों की समुचित थर्मोस्केनिंग आदि की व्यवस्था की जाएगी द्य कोविड के चलते परीक्षा केंद्र की कुल क्षमता के सिर्फ 50 प्रतिशत अभ्यर्थी ही बैठाए जाएंगे।

गौरतलब है कि एनसीएल देश कि ऊर्जा सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए युवाओं को आकर्षक रोजगार का अवसर भी उपलब्ध करा रही है।