नागपुर, 26 जुलाई। नागपुर के लेखक-कवि डॉ. अशोक काले की लघु फिल्म ने हाल ही में औरंगाबाद में आयोजित रोशनी अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में प्रथम पुरस्कार जीता।

पहली प्रोडक्शन श्रेणी में कुल 203 प्रविष्टियों में से चार लघु फिल्मों को अमेरिका, जर्मनी और इंग्लैंड से लघु फिल्मों के साथ नामांकित किया गया था। इसमें लघु फिल्म ’विमुक्त’ ने प्रथम पुरस्कार जीता।

जनाई एंटरटेनमेंट द्वारा प्रस्तुत इस लघु फिल्म का निर्देशन विलास चाफले और डॉ. अशोक काले ने किया। इस फिल्म में बाल कलाकार दर्शन विभूते ने मुख्य भूमिका निभाई थी और नीरजा विभूते ने मां की भूमिका निभाई थी।

लघु फिल्म का मुख्य विषय कोरोना काल में बच्चों का मानसिक टूटना और हर जीव की प्राकृतिक स्वतंत्रता के प्रति जागरूकता थी।

सोशल मीडिया पर अपडेट्स के लिए Facebook (https://www.facebook.com/industrialpunch) एवं Twitter (https://twitter.com/IndustrialPunchपर Follow करें …