खान मंत्रालय ने एनएमडीसी को 5-स्टार रेटिंग से सम्मानित किया

एनएमडीसी की ओर से पुरस्कार प्राप्त करते हुए निदेशक (उत्पादन) दिलीप कुमार मोहंती ने कहा कि “भारतीय खनन उद्योग में एक प्रमुख हितधारक के रूप में, यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम ऊर्जा कुशल और चिरस्थायी उत्पादन प्रक्रियाओं को लागू करें।

नई दिल्ली, 24 नवम्बर। नेशनल मिनरल डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड (एनएमडीसी), इस्पात मंत्रालय के अंतर्गत आने वाला एक सार्वजनिक उपक्रम को खान और खनिज पर आयोजित 5वें राष्ट्रीय सम्मेलन में उनके यहां संचालित किए जा रहे सभी लौह और खनन जैसे कुमारस्वामी, बचेली डिपॉजिट-5, डिपॉजिट-14 एनएमजेड और डिपॉजिट नंबर 10 हेतु तीन वर्ष के लिए कुल मिलाकर नौ 5-स्टार की रेटिंग प्राप्त हुई। संसदीय कार्य, कोयला और खान मंत्री,  प्रह्लाद जोशी ने एनएमडीसी के निदेशक (उत्पादन), दिलीप कुमार मोहंती को कंपनी द्वारा किए जा रहे निरंतर खनन प्रयासों के लिए सम्मानित किया।

संसदीय कार्य, कोयला और खान मंत्री प्रह्लाद जोशी ने खान और खनिज पर 5वें राष्ट्रीय सम्मेलन की अध्यक्षता की और राज्य सरकारों को 52 से ज्यादा खनिज ब्लॉक आवंटित किए। उन्होंने मान्यता प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाने के लिए एक ई-पोर्टल को भी जारी किया। खान मंत्रालय ने दीर्घकालिक और उत्तरदायी खनन करने वाले खदानों को वर्ष 2017-18, 2018-19, 2019-20 के लिए 5-स्टार रेटिंग प्रदान की।

एनएमडीसी की ओर से पुरस्कार प्राप्त करते हुए निदेशक (उत्पादन) दिलीप कुमार मोहंती ने कहा कि “भारतीय खनन उद्योग में एक प्रमुख हितधारक के रूप में, यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम ऊर्जा कुशल और चिरस्थायी उत्पादन प्रक्रियाओं को लागू करें। 5-स्टार रेटिंग पर्यावरण संरक्षण के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को प्रमाणित करता है।“

पुरस्कार के लिए टीम को बधाई देते हुए एनएमडीसी के सीएमडी सुमित देब ने कहा कि “पिछले कुछ वर्षों में हमारे खनन परिसर डिजिटलीकरण की ओर बढ़ रहे हैं। एनएमडीसी ने खनन के लिए सुरक्षित, वैज्ञानिक और पर्यावरण अनुकूल उपायों को अपनाया है जिनका प्रभाव पर्यावरण पर बहुत ही न्यूनतम पड़ता है। हम देश के लिए पर्यावरण अनुकूल खनन का काम करने वाले हमारे आदर्श वाक्य के अनुरूप विभिन्न पर्यावरण और ऊर्जा संरक्षण पहलों पर अपनी प्रगति को निरंतर जारी रखे हुए हैं।“

सोशल मीडिया पर अपडेट्स के लिए Facebook (https://www.facebook.com/industrialpunch) एवं Twitter (https://twitter.com/IndustrialPunchपर Follow करें …