रायगढ़ : यूनिसेफ का किड्स टेक ओव्हर कार्यक्रम, अनामिका बनी एक दिन की कलेक्टर

कलेक्टर भीम सिंह ने दिए छात्रों के सवालों के जवाब, बताया क्या होती है कलेक्टर की जिम्मेदारियां, आईएएस की तैयारी के लिए भी दिए महत्वपूर्ण टिप्स

रायगढ़, 18 नवंबर 2021. कक्षा 11 वीं की छात्रा अनामिका विश्वकर्मा आज एक दिन की कलेक्टर बनकर जिला प्रशासन के मुखिया की जिम्मेदारियों व कामकाज को समझा। यूनिसेफ द्वारा संचालित किड्स टेक ओवर कार्यक्रम अंतर्गत रायगढ़ के 10 छात्रों ने आज कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रशासनिक कार्यप्रणाली को करीब से देखा। छात्रों ने कलेक्टर भीम सिंह से प्रशासनिक दायित्वों के निर्वहन के लिए आवश्यक गुणों व आने वाले चुनौतियों के साथ आईएएस बनने के लिए जरूरी तैयारियों से जुड़े कई सवाल पूछे जिसका कलेक्टर श्री भीम सिंह ने छात्रों को जवाब दिया।

यूनिसेफ द्वारा संचालित कार्यक्रम किड्स टेक ओव्हर अंतर्गत अपने जिले के महत्वपूर्ण कार्यालय को संभालने के लिए बच्चों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल रायगढ़ में अध्ययनरत छात्रा अनामिका विश्वकर्मा को कलेक्टर श्री भीम सिंह ने अपने कार्यालय में अपनी कलेक्टर की सीट पर बिठाया और साथ में आए लगभग 10 छात्र-छात्राओं के साथ संवाद करते हुए उनके सवालों का जवाब भी दिया।

एक दिन की कलेक्टर बनी छात्रा अनामिका विश्वकर्मा ने कलेक्टर से पूछा किए आईएएस बनने के पीछे आपका स्ट्रगल कैसा था? कक्षा बारहवीं के दीपेश बारिक ने कलेक्टर से पूछा कि एक कलेक्टर में क्या स्पेशल क्वालिटी होनी चाहिए? वहीं छात्रा अनामिका विश्वकर्मा ने कलेक्टर से पूछा कि जब आपका सिलेक्शन आईएएस इंटरव्यू के लिए हुआ तो इंटरव्यू में जाने के पहले और इंटरव्यू के दौरान आप कैसा महसूस कर रहे थे और आपकी इंटरव्यू की तैयारियां कैसी थी।

छात्रों द्वारा पूछे गए सारे प्रश्नों के जवाब कलेक्टर भीम सिंह ने देते हुए बताया कि कोविड काल में प्रभावित हुई शिक्षा व शिक्षा उपलब्ध कराने हेतु किए गए उनके विभिन्न प्रयासों के बारे में बताया। कोविड काल के दौरान जिले में व्यवस्था बनाए रखने की रणनीति के बारे में एक कलेक्टर के रूप में अपनी जिम्मेदारियों को धैर्य पूर्वक कैसे निभाया जाता है, आमजन की समस्याओं को सुनकर उनका समाधान करना तथा शासन की विभिन्न योजनाओं के शत-प्रतिशत क्रियान्वयन के लिए प्रयास व उनकी मॉनिटरिंग के बारे में विस्तार से जवाब दिया तथा उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए उन्हें कड़ी मेहनत करने की बात कही।

उल्लेखनीय है कि विश्व बाल दिवस उत्सव के रूप में मनाए जा रहे ’किड्स टेक ओव्हर्य कार्यक्रम अंतर्गत बाल हितों के लिए अंतरराष्ट्रीय समग्रता स्थापित करने, पूरे विश्व के बच्चों में जागरूकता बढ़ाने और बच्चों के हितों में सुधार के उद्देश्य से कार्य किया जा रहा है, जिससे पेरेंट्स, टीचर, नर्स एवं डॉक्टर सरकारी प्रतिनिधि और सामाजिक कार्यकर्ता धार्मिक एवं सामुदायिक प्रतिनिधि कारपोरेट हाउसेस और मीडिया कर्मियों के साथ-साथ बच्चे भी विश्व बाल दिवस को सामाजिक सामुदायिक और राष्ट्रीय स्तर पर प्रासंगिक बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकें। इस उद्देश्य को लेकर यूनिसेफ द्वारा संचालित किड्स टेक ओव्हर कार्यक्रम अंतर्गत रायगढ़ जिले के स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल में अध्ययनरत छात्रों ने कलेक्टर श्री भीम सिंह से मुलाकात की।

कार्यक्रम के दौरान यूनिसेफ की शिक्षा सलाहकार सुश्री रंजू मिश्रा, यूनिसेफ के जिला समन्वयक प्रशांत कुमार प्रधान, डीएमसी रायगढ़ रमेश देवांगन सहित छात्र-छात्राओं में अनु चौधरी, अनामिका विश्वकर्मा, ख्याति राणा, इति श्री बिशाल, अमन पाणिग्रही, दीपेश बारिक, रोहित राजवंशी, किशन कुमार साह, आदित्य नारायण पटवा, आमिर खान आदि छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

सोशल मीडिया पर अपडेट्स के लिए Facebook (https://www.facebook.com/industrialpunch) एवं Twitter (https://twitter.com/IndustrialPunchपर Follow करें …