बचत योजनाओं में कितने दिन में आपका पैसा हो जाएगा डबल, Rule of 72 से आसानी से करें कैल्कुलेट

भविष्य की जरूरतों को पूरा करने के लिए सेविंग (Savings) करना बहुत जरूरी है। केंद्र सरकार ने सेविंग्स को बढ़ावा देने के लिए कई महत्वपूर्ण योजनाएं लॉन्च की हैं, जिनमें निवेशकों को अच्छा-खासा रिटर्न मिलता है। ऐसी ही कुछ योजनाएं हैं पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF), नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC), सुकन्या समृद्धि योजना और सीनियर सिटीजंस सेविंग स्कीम।

इन स्कीम्स पर केंद्र सरकार एक निश्चित रिटर्न देती है। हर व्यक्ति की यह जानने मे उत्सुकता रहती है कि जो पैसा वे इन स्कीम्स में निवेश कर रहे हैं, वह कितने दिन में दोगुना यानी डबल हो जाएगा। अगर आप आसानी के यह कैल्कुलेट करना चाहते हैं कि किसी स्कीम में आपका पैसा कितने दिनों में डबल हो जाएगा तो आपको रूल ऑफ 72 (Rule of 72) जरूर जानना चाहिए।

Rule of 72 एक साधारण फॉर्म्यूला है, जिससे यह आसानी से पता चल जाता है कि किसी भी स्कीम में निवेश किया गया आपका पैसा कितने दिन में डबल हो जाएगा। इसे कैल्कुलेट करने का बेहद आसान तरीका है। आप किसी भी स्कीम में मिलने वाले रेट ऑफ इंटरेस्ट यानी ब्याज दर को 72 से भाग दें। फंड कितने दिन में डबल होगा यह निकल आएगा।

उदाहरण के लिए मान लीजिए आपने PPF में अपना पैसा निवेश किया है और PPF अभी 7.1% इंटरेस्ट दे रहा है तो इसे 72 से भाग देने पर जो रिटल्ट आएगा वह होगा 10.14, यानी 10.14 साल में PPF में निवेश किया हुआ आपका पैसा डबल हो जाएगा। आपको बता दें कि PPF पर मिलने वाला ब्याज सरकार हर तिमाही तय करती है।

इसी तरहल National Savings Certificate पर अभी 6.8% इंटरेस्ट मिल रहा है, तो 6.8 से भाग देने पर रिजल्ट आएगा 10.58, यानी इतने साल में इस स्कीम में आपका पैसा डबल हो जाएगा। इसी तरह आप किसी भी स्कीम में कितने दिन में पैसा डबल होगा, यह कैल्कुलेट कर सकेंगे।

निवेश करते समय हमेशा धायन रखें कि कहां आपको अधिक रिटर्न मिलेगा। लेकिन यह याद रखिये कि इंवेस्टमेंट पर जितना अधिक रेट ऑफ रिटर्न होगा, रिस्क भी उतना ही ज्यादा होगा। फिक्स्ड डिपोजिट या सरकारी सेविंग स्कीम्स के मुकाबले इक्विटी में निवेश करने पर अधिक रिटर्न मिलता है, लेकिन इससे पैसे डूबने का रिस्क भी उतना ही अधिक होता है।