केंद्रीय इस्पात मंत्री ने रूसी गणराज्य के ऊर्जा मंत्री से की मुलाकात, कोकिंग कोयला क्षेत्र के लिए किया गया एमओयू

इस्पात बनाने और इस्पात क्षेत्र में आरएंडडी में उपयोग होने वाले कोकिंग कोयले में सहयोग के संबंध में दोनों देशों के बीच एक अहम समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।

केंद्रीय इस्पात मंत्री राम चंद्र प्रसाद सिंह ने आज रशियन एनर्जी वीक के दौरान मॉस्को में रूसी गणराज्य के ऊर्जा मंत्री निकोले शुलगिनोव के साथ मुलाकात की। इस्पात बनाने और इस्पात क्षेत्र में आरएंडडी में उपयोग होने वाले कोकिंग कोयले में सहयोग के संबंध में दोनों देशों के बीच एक अहम समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।

इसे भी पढ़ें : केन्‍द्र ने राज्‍यों से खाद्य तेलों की कीमतों में कटौती सुनिश्‍चित करने को कहा

इस समझौते के माध्यम से भारत को अच्छी गुणवत्ता के कोकिंग कोयले की दीर्घकालिक आपूर्ति, कोकिंग कोयले के भंडारों के विकास और लॉजिस्टिक विकास, कोकिंग कोयले के उत्पादन के प्रबंधन में अनुभव, खनन प्रौद्योगिकियां साझा करने, बेनिफिकेशन और प्रोसेसिंग के साथ ही प्रशिक्षण सहित कोकिंग कोयले में संयुक्त परियोजनाओं/ व्यावसायिक गतिविधियों के कार्यान्वयन की कल्पना की गई है।

इसे भी पढ़ें : सब कुछ झोंक कर कोयला उत्पादन एवं प्रेषण बढ़ाने पर दें जोर, कोयला मंत्री ने रांची में CCL व BCCL प्रबंधन के साथ की बैठक

इस बैठक के दौरान, दोनों नेताओं ने इस्पात क्षेत्र में कोकिंग कोयले में सहयोग के अवसरों पर विचार विमर्श किया। इस्पात मंत्री मॉस्को की दो दिवसीय यात्रा के दौरान रूस के अग्रणी इस्पात संस्थानों और कंपनियों के साथ भी मुलाकात करेंगे।

सोशल मीडिया पर अपडेट्स के लिए Facebook (https://www.facebook.com/industrialpunch) एवं Twitter (https://twitter.com/IndustrialPunchपर Follow करें …