VINOD CHANDRAKAR
VINOD CHANDRAKAR

महासमुंद, 29 जुलाई। महासमुंद मेडिकल कॉलेज को अंततः नेशनल मेडिकल कमीशन (NMC) से हरी झंडी मिल गई। संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर के अथक प्रयास के चलते एनएमसी से सौ सीटों के लिए अनुमति मिली है। बताया जाता है कि इसी सत्र से यहां मेडिकल कॉलेज की पढ़ाई शुरू हो जाएगी।

जिले में स्वास्थ्य सुविधाएं को लेकर संसदीय सचिव व विधायक श्री चंद्राकर शुरू से शासन-प्रशासन का ध्यानाकर्षित कराते रहे हैं। इसी का परिणाम रहा कि विधानसभा क्षेत्र में मेडिकल कॉलेज की सौगात मिल सकी। मेडिकल कॉलेज निर्माण के लिए 325 करोड़ की स्वीकृति मिली थी।

पिछले सत्र में कुछ तकनीकी खामियों की वजह से मेडिकल कॉलेज महासमुंद को अनुमति नहीं मिल सकी थी। बाद इसके एनएमसी के नार्म्स को पूरा कराने संसदीय सचिव श्री चंद्राकर लगातार मानीटरिंग करने के साथ ही मेडिकल कॉलेज प्रबंधन के संर्पक में रहे।

कॉलेज में सेटअप के साथ ही मेडिकल कॉलेज के विद्यार्थियों के प्रशिक्षण के लिए राज्य शासन की ओर हॉस्पिटल का निर्धारण भी उनके अथक प्रयास के बाद किया गया। बाद इसके आज एनएमसी से मेडिकल कॉलेज महासमुंद के डीन को एक पत्र के माध्यम से सौ सीटों के संचालन के लिए अनुमति दी गई है।

संसदीय सचिव श्री चंद्राकर ने बताया कि महासमुंद के मेडिकल कॉलेज को एनएमसी से अनुमति के लिए हरसंभव प्रयास किया गया है। पिछले सत्र में कुछ कमियों के चलते एनएमसी से मान्यता नहीं मिल सकी। बाद इसके नार्म्स को लेकर कॉलेज प्रबंधन से लगातार संपर्क कर आवश्यक तैयारियां कराई गई। जिससे मेडिकल कॉलेज महासमुंद को एनएमसी के नार्म्स के मुताबिक आवश्यक संसाधन मुहैया कराने की पहल की गई।

नतीजतन आज शुक्रवार को एनएमसी ने महासमुंद मेडिकल कॉलेज महासमुंद को सौ सीटों के लिए मान्यता दी है। उन्होंने बताया कि इसी सत्र से कॉलेज में अध्यापन का कार्य शुरू हो जाएगा।

सोशल मीडिया पर अपडेट्स के लिए Facebook (https://www.facebook.com/industrialpunch) एवं Twitter (https://twitter.com/IndustrialPunchपर Follow करें …