नई दिल्ली, 13 सितम्बर। सरकार ने तीन सौ 84 दवाओं की राष्‍ट्रीय आवश्‍यक औषधि सूची (NLEM) जारी की हैं। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने आज नई दिल्‍ली में वर्ष 2022 की अद्यतन NLEM जारी की। इसमें 27 कैटेगरी में 384 दवाओं को शामिल किया गया है। नई संशोधित आवश्यक दवाओं की सूची से 26 दवाएं हटाई भी गई हैं। डॉ. मांडविया ने कहा कि यह सूची स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल के सभी स्‍तरों पर किफायती और उत्‍कृष्‍ट दवाएं उपलब्‍ध कराने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाती है।

केंद्र सरकार की ओर से इससे पहले 2015 में आवश्यक दवाओं की राष्ट्रीय सूची जारी की गई थी। हटाई कुछ कुछ दवाएं पिछले दिनों में बहुतायत में इस्तेमाल होती रही हैं। जिन दवाओं को हटाया गया है, उसमें रेनिटिडाइन (Ranitidine) भी है जिसे अक्सर एसिडिटी और पेट संबंधी अन्य समस्याओं के लिए लिया जाता है। इसे रैनटेक (Rantac), जिनेटेक (Zinetac) और एसियोलिक  Aciloc) जैसे ब्रांड नामों के साथ बेचा जाता है। हालांकि इनसे कैंसर होने के खतरे की आशंका के चलते आवश्यक दवाओं को सूची से हटा दिया गया है।

साल 2020 में अमेरिका के खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) ने रेनिटिडाइन में निम्न स्तर पर एन नाइट्रोसोडिमिथाइलमाइन (एनडीएमए) की मौजूदगी की बात सामने आने के बाद सभी रैनिटिडीन उत्पादों (इंजेक्शन से देने वाले और मुंह से दिए जाने वाले ) को बाजार से हटा लिया था। इंडियन जर्नल ऑफ फार्माकोलॉजी द्वारा प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार एन- नाइट्रोसामाइन का संबंध पेट, अन्नप्रणाली, नासोफरीनक्स (nasopharynx) और मूत्राशय के कैंसर से है।

नए एनएलईएम में 34 दवाओं को शामिल किया गया है। इनमें कुछ संक्रमण- रोधी दवाएं जैसे आइवरमेक्टिन, मुपिरोसिन और निकोटीन रिप्लेसमेंट थेरेपी शामिल हैं। ऐसे में सूची में कुल दवाओं की संख्या 384 हो गई हैं।

दवाओं की नई राष्ट्रीय सूची में इन्हें भी जोड़ा गया

कुछ अन्य दवाएं जिन्हें सूची में जोड़ा गया है, उसमें गर्भनिरोधक फ्लूड्रोकोर्टिसोन, ऑरमेलोक्सिफ़ेन, इंसुलिन ग्लार्गिन और टेनेलीग्लिटिन शामिल है। सांस में तकलीफ के समय दी जाने वाली मॉन्टेलुकास्ट (Montelukast) और नेत्र रोग की दवा लैटानोप्रोस्ट (Latanoprost) को भी सूची में शामिल किया गया है। हृदय संबंधी दवा डाबीगट्रान (Dabigatran) और टेनेक्टेप्लेस (Tenecteplase) को भी शामिल किया गया है। स्वास्थ्य मंत्री ने आमतौर पर इस्तेमाल की जाने वाली दवाओं की बेतहाशा वृद्धि से रोकने के लिए मूल्य सीमा की भी घोषणा की और कहा कि कुछ एंटीबायोटिक्स, टीके और कैंसर रोधी दवाएं अब अधिक सस्ती और सुलभ होंगी।

इन 26 दवाओं को सूची से हटाया गया

1. अल्टेप्लेस (Alteplase)
2. एटेनोलोल (Atenolol)
3. ब्लीचिंग पाउडर (Bleaching Powder)
4. कैप्रोमाइसिन (Capreomycin)
5. सेट्रिमाइड (Cetrimide)
6. क्लोरफेनिरामाइन (Chlorpheniramine)
7. दिलोक्सैनाइड फ्यूरोएट (Diloxanide furoate)
8. डिमेरकाप्रोलो (Dimercaprol)
9. एरिथ्रोमाइसिन (Erythromycin)
10. एथिनिल एस्ट्राडियोल (Ethinylestradiol)
11. एथिनिल एस्ट्राडियोल (ए) नोरेथिस्टरोन (बी) (Ethinylestradiol (A) + Norethisterone (B))
12. गैनिक्लोविर (Ganciclovir)
13. कनामाइसिन (Kanamycin)
14. लैमिवुडिन (ए) + नेविरापीन (बी) + स्टावूडीन (सी) (Lamivudine (A) + Nevirapine (B) + Stavudine (C))
15. लेफ्लुनोमाइड (Leflunomide)
16. मेथिल्डोपा (Methyldopa)
17. निकोटिनामाइड (Nicotinamide)
18. पेगीलेटेड इंटरफेरॉन अल्फा 2 ए , पेगीलेटेड इंटरफेरॉन अल्फा 2 बी (Pegylated interferon alfa 2a , Pegylated interferon alfa 2b)
19. पेंटामिडाइन (Pentamidine)
20. प्रिलोकेन (ए) + लिग्नोकेन (बी) (Prilocaine (A) + Lignocaine (B))
21. प्रोकार्बाजिन (Procarbazine)
22. रैनिटिडीन (Ranitidine)
23. रिफाब्यूटिन (Rifabutin)
24. स्टावूडीन (ए) + लैमिवुडिन (बी) (Stavudine (A) + Lamivudine (B))
25. सुक्रालफेट (Sucralfate)
26. सफेद पेट्रोलेटम (White Petrolatum)

सोशल मीडिया पर अपडेट्स के लिए Facebook (https://www.facebook.com/industrialpunch) एवं Twitter (https://twitter.com/IndustrialPunchपर Follow करें …