1971 युद्ध के शहीदों के प्रतीक इन्वर्टेड राइफल और हेलमेट को इंडिया गेट से राष्ट्रीय युद्ध स्मारक ले जाया गया

सशस्त्र सेना द्वारा आज एक समारोह में 1971 के युद्ध में शहीद हुए सैनिकों के प्रतीक इन्वर्टेड राइफल और हेलमेट को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक के परम योद्धा स्थल ले जाया गया और परमवीर चक्र विजेताओं की आवक्ष प्रतिमाओ के बीच स्थापित किया गया।

नई दिल्ली, 27 मई। सशस्त्र सेना द्वारा आज एक समारोह में 1971 के युद्ध में शहीद हुए सैनिकों के प्रतीक इन्वर्टेड राइफल और हेलमेट को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक के परम योद्धा स्थल ले जाया गया और परमवीर चक्र विजेताओं की आवक्ष प्रतिमाओ के बीच स्थापित किया गया।

इस समारोह के साथ ही 1971 के युद्ध में शहीद हुए सैनिकों के स्मारक का राष्ट्रीय युद्ध स्मारक के साथ एकीकरण पूरा हो गया है।

इस समारोह का नेतृत्व चीफ ऑफ इंटीग्रेटेड डिफेंस स्टाफ टू द चेयरमैन, चीफ ऑफ स्टाफ कमिटी (सीआईएससी) एयर मार्शल वी.के. कृष्णा ने किया और इसमे सेना के तीनों अंगों के एडजुटेंड जनरल समकक्ष शामिल हुए।

समारोह में अंतिम सलामी दी गई और सीआईएससी ने इंडिया गेट पर पुष्पांजलि अर्पित की। उसके बाद वहां से इन्वर्टेड राइफल और हेलमेट को हटाया गया और रस्मी वाहन में परम योद्धा स्थल ले जाया गया एवं नए स्मारक में स्थापित किया गया। सीआईएससी और सेना के तीनों अंगों के एडजुटेंड जनरल समकक्षों ने नए स्मारक को सलामी दी।

सोशल मीडिया पर अपडेट्स के लिए Facebook (https://www.facebook.com/industrialpunch) एवं Twitter (https://twitter.com/IndustrialPunchपर Follow करें …