समीक्षा बैठक लेते हुए कोयला प्रल्हाद जोशी
समीक्षा बैठक लेते हुए कोयला प्रल्हाद जोशी

आसनसोल, 23 नवम्बर। बुधवार शाम को कोयला, खान एवं संसदीय कार्य मंत्री, प्रल्हाद जोशी दो दिवसीय दौर पर ईस्टर्न कोलफ़ील्डस लिमिटेड पहुंचे। कोयला मंत्री ने ईसीएल के अधिकारियों के साथ कामकाज की समीक्षा की और 2022-23 में कंपनी के लिए निर्धारित 50 एमटी कोयला उत्पादन लक्ष्य को हासिल करने पर ज़ोर दिया।

श्री जोशी ने कहा कि मुझे खुशी है कि ईसीएल ने पिछले वर्ष के मुकाबले कोयला उत्पादन में 12 फीसदी की वृद्धि दर्ज की है।

कोयला मंत्री ने ईसीएल के अधिकारियों से कहा कि कंपनी से होने वाले कोल-ऑफटेक में और सुधार की जरूरत है। थर्मल पावर प्लांट्स के लिए कोयले की पर्याप्त मात्रा सुनिश्चित करने के लिए महाप्रबंधक स्तर के सभी अधिकारियों सहित ईसीएल के सीनियर मैनेजमेंट को अपनी कोशिशों में तेजी लाने के निर्देश दिए गए।

इसे भी पढ़ें : NCWA- XI : DPE नियमों में छूट मिली तब भी 20% के भीतर रहेगा MGB?, क्या होगा जेबीसीसीआई की 7वीं बैठक में?

श्री जोशी ने कहा कि ईसीएल का रानीगंज कोलफील्ड भारत में कोयला खनन की जन्मस्थली है। कंपनी कोयला उत्पादन की नई ऊंचाइयों को छू रही है। 8 के समावेश के साथ मुझे पूरा विश्वास है कि कंपनी भविष्य में कोयला उत्पादन के नए रिकॉर्ड बनाएगी।

इसके पूर्व दुर्गापुर के क़ाज़ी नज़रुल इस्लाम एयरपोर्ट पर ईसीएल के अध्यक्ष सह प्रबंध निदेशक एपी पंडा ने उनका स्वागत किया। कोयला मंत्री के साथ अपर सचिव एम नागराजू का भी आगमन हुआ है।

कोयला मंत्री एयरपोर्ट से सीधे दुर्गापुर स्थित होटल में पहुंचे। यहां कोल इंडिया के चेयरमैन प्रमोद अग्रवाल, ईसीएल सीएमडी एपी पंडा, निदेशक (तकनीकी) जेपी गुप्ता, निदेशक (वित्त) मो. अंजार आलम, निदेशक (कार्मिक) आहूति स्वाईं, मुख्य सतर्कता अधिकारी मुकेश कुमार मिश्रा ने स्वागत किया। कोयला मंत्री गुरुवार को ईसीएल की कोयला खदानों का अवलोकन करेंगे।

कोल सेक्टर की खबरें पढ़ने क्लिक करें : https://www.industrialpunch.com/category/coal/ 

सोशल मीडिया पर अपडेट्स के लिए Facebook (https://www.facebook.com/industrialpunch) एवं Twitter (https://twitter.com/IndustrialPunchपर Follow करें …