नागपुर, 13 सितम्बर। कोल इंडिया (CIL) की अनुषांगिक कंपनी वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (WCL) में श्रमिक संगठनों की सदस्यता सत्यापन (Membership Verification) का कार्य पूरा हो गया। हिंद मजदूर सभा (HMS) 9862 सदस्यता के साथ टॉप पर है। भारतीय मजदूर संघ (BMS) की सदस्यता में भारी गिरावट आई है।

यहां बताना होगा कि दूसरे चरण के सदस्यता सत्यापन का कार्य 12 एवं 13 सितम्बर को हुआ। इसके पूर्व 16 से 21 अगस्त तक सदस्यता सत्यापन का पहला चरण चला था।

इसे भी पढ़ें : कॅमर्शियल माइनिंग : मंगलवार को हुई 8 कोल ब्लॉक की नीलामी, देखें किस कंपनी के हाथ कौन साथ ब्लॉक लगा :

पहले चरण में ही एचएमएस ने 8824 सदस्यों का आंकड़ा हासिल कर निर्णायक बढ़त बना ली थी। पहले चरण में बीएमएस को 7595 सदस्यों का समर्थन मिला था।

सदस्यता सत्यापन के अंतिम परिणाम के अनुसार एचएमएस ने इस साल बीएमएस को 1380 के अंतर से पछाड़ा है। एचएमएस की कुल सदस्यता 9862 पर आकर रूकी है। 2021 में एचएमएस की सदस्यता 9523 थी।

बीएमएस के खाते में 8195 सदस्य आए हैं। जबकि 2021 में बीएमएस की सदस्यता का आंकड़ा 9026 पर था। यानी बीएमएस की सदस्यता में खासी गिरावट आई है।

6776 के आंकड़े के साथ एटक तीसरे स्थान पर है। 2021 में एटक के साथ 7183 कामगार थे। सबसे अधिक गिरावट इंटक की रही। 2022 में इंटक को 5372 कामगारों का ही समर्थन मिला है। जबकि 2021 में इंटक का आंकड़ा 7113 था।

इसे भी पढ़ें : नए लेबर कोड को लागू करने की तैयारी, सैलरी डीकोड- ड्राफ्ट भी रेडी, पढ़ें पूरी रिपोर्ट :

चेक ऑफ सिस्टम में श्रमिक संगठन सीटू सम्मिलित नहीं है।

एचएमएस से सम्बद्ध कोयला श्रमिक सभा (KSS) के केन्द्रीय अध्यक्ष एवं जेबीसीसीआई सदस्य शिवकुमार यादव ने कहा कि श्रमिकों के हितों के लिए एचएमएस निरंतर लड़ाई लड़ रहा है। यही कारण है कि कोल सेक्टर में एचएमएस नम्बर एक पर है।

कोल सेक्टर की खबरें पढ़ने क्लिक करें : https://www.industrialpunch.com/category/coal/ 

सोशल मीडिया पर अपडेट्स के लिए Facebook (https://www.facebook.com/industrialpunch) एवं Twitter (https://twitter.com/IndustrialPunchपर Follow करें …